इस गांव की सभी महिलाएं एक-दूसरे से ही कर लेती हैं शादी

ॐ मंगलम भगवान विष्णु मंगलम गरुणध्वजः मंगलम पुण्डरीकाक्षौ मंगलायतनो हरिः !!" अब वर वधू को आशीर्वाद दीजिए ...अरे लेकिन यहां स्यापा हो गया। यहां वर तो है ही नहीं, मामला थोड़ा उल्टा है ...हम बात कर रहें हैं तंजानिया के एक गांव की। यहां रहने वाली सभी महिलाएं ही हैं जो एक खास प्रजाति से ताल्लुक रखती हैं और ये महिलाएं आपस में ही शादी कर लेती हैं। हालांकि ये महिलाएं लेस्बियन भी नहीं होतीं। असल में इसके पीछे कुछ दूसरी वजहें हैं ...आइए बताते हैं क्या।

 womenn-777_1470021288

कई लोगों के मन में यह विचार उठ सकता है कि शायद ये महिलाएं होमोसेक्शुएलिटी की वजह से ऐसा करती होंगी और ये विचार आना लाज़मी भी है, लेकिन हम यहां आपको बता दें कि ऐसा कुछ भी नहीं है असल में ये महिलाएं ऐसा इसलिए करती हैं ताकि इनका अपने घरों पर अधिकार बना रहे।

women-22_1470021300

दरअसल ये महिलाएं नहीं चाहती हैं कि कोई अन्य पुरुष बाहर से आकर इनके घर अथवा समाज पर किसी प्रकार का अधिकार जमाये। ये अपने घरों पर अपना हक रखना चाहती हैं ताकि कोई और पुरुष वहां न आ जाए। ऐसा कह सकते हैं कि पुरुषवादी समाज के विरोध में ये महिलाएं ऐसा करती हैं...

tribes223_1469989433
ये महिला (पति) बकायदा काम पर जाती हैं और दूसरी महिला(पत्नी) पीछे से घर को संभालती है और बाकी जिम्मेदारियां भी निभाती है। tribes_1222_1469989432

वहां की महिलाओं का कहना है कि “हमें कोई छू नहीं सकता। अगर कोई मर्द हमारी प्रॉपर्टी को छीनने या हमें नुकसान पहुंचाने की कोशिश करता है तो उसे सज़ा दी जाएगी। यहां सारा पॉवर हमारे पास ही है”। दरअसल यहां की महिलाएं खुद को आत्मनिर्भर बनाने और संपत्ति का पूरा हक अपने पास रखने के लिए एक-दूसरे से विवाह कर लेती हैं। पहले ये मात्र एक कार्य हुआ करता था लेकिन वर्तमान में इस कार्य ने परंपरा का रूप ले लिया है। यहां कोई भी मर्द नहीं है सभी महिलाएं एक-दूसरे से ही विवाह कर लेती हैं।

Post a comment

0 Comments